Startup India Seed Fund Scheme 2021: Apply Online, Eligibility & Benefits

Startup India Seed Fund Scheme 2021 स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना ऑनलाइन | स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना ऑनलाइन आवेदन करें | स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना आवेदन पत्र

उद्यमियों के लिए, उनके उद्यम को विकसित करने के लिए पूंजी की आसान उपलब्धता एक बहुत ही महत्वपूर्ण कारक है। कई व्यवसायिक विचार हैं जो पूंजी की कमी के कारण अस्तित्व में नहीं आते हैं। इसलिए इस स्थिति पर अंकुश लगाने के लिए भारत सरकार ने स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से सरकार उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने जा रही है। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको इस योजना के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं जैसे स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना क्या है? इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता मानदंड, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, आदि। इसलिए यदि आप इस योजना के बारे में हर एक विवरण को प्राप्त करने के इच्छुक हैं तो आपको इस लेख को अंत तक बहुत ध्यान से पढ़ना होगा।

Startup India Seed Fund Scheme 2021

एक मजबूत स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए, भारत सरकार ने 16 जनवरी 2016 को स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना शुरू की है ताकि उद्यमियों को अपने उद्यम को विकसित करने के अवसर प्रदान किए जा सकें। इस योजना को शुरू करने की घोषणा हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने की थी। इस योजना के माध्यम से स्टार्टअप्स को शुरुआती चरण में इन्क्यूबेटरों के माध्यम से 50 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। सरकार ने इस योजना के लिए 945 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। यह फंड अवधारणा के प्रमाण, प्रोटोटाइप विकास, उत्पाद परीक्षण, बाजार में प्रवेश और व्यावसायीकरण के लिए उपयोग करेगा। इस योजना के तहत सरकार इन्क्यूबेटरों को फंड मुहैया कराने जा रही है। इनक्यूबेटर इन फंडों को स्टार्टअप्स को आगे प्रदान करने के लिए जिम्मेदार होगा। अगले 4 वर्षों में स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना से 300 इन्क्यूबेटरों के माध्यम से 3600 उद्यमियों को लाभ होगा।

About Incubators-Startup India Seed Fund Scheme 2021

इनक्यूबेटर वे संगठन हैं जो नागरिकों के बीच नवाचार और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए काम करते हैं। वे मूल रूप से स्टार्टअप्स को धन और उनके बुनियादी ढांचे प्रदान करते हैं ताकि वे विकास, उत्पाद परीक्षण, बाजार में प्रवेश, व्यावसायीकरण आदि की अपनी व्यावसायिक गतिविधियों को अंजाम दे सकें। सरकार इन्क्यूबेटरों को प्रोत्साहन प्रदान करती है और इनक्यूबेटर आगे स्टार्टअप को धन प्रदान करेंगे। स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना 2021 के तहत सरकार 300 इन्क्यूबेटरों को अनुदान देने जा रही है। इस योजना के तहत स्टार्टअप को प्रदान की जाने वाली धनराशि 50 लाख रुपये तक होगी। इनक्यूबेटर आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। उनके आवेदन का सत्यापन करने के बाद सरकार उन्हें बीज निधि प्रदान करेगी। स्टार्टअप भी इस योजना के तहत सीधे पोर्टल से आवेदन कर सकते हैं और वहां से वे अपनी पसंद के इनक्यूबेटर का चयन कर सकते हैं।

Key Highlights Of Startup India Seed Fund Scheme

Name Of The SchemeStartup India Seed Fund Scheme
Launched ByGovernment Of India
BeneficiaryEntrepreneurs
ObjectiveTo Provide Funds For Startup
Official WebsiteClick Here
Year2021
Financial AssistanceUp To Rs 50 Lakh
Total BudgetRs 945 Crore
Number Of Beneficiaries3600

Objective of Startup India Seed Fund Scheme

स्टार्टअप इंडिया सीड फंड का मुख्य उद्देश्य उद्यमियों को उनके स्टार्टअप के लिए धन उपलब्ध कराना है ताकि वे अपने उद्यमों का विकास कर सकें। इस योजना के माध्यम से अब उद्यमियों को अपने व्यावसायिक विचार के लिए धन प्राप्त करने के लिए बैंकों और वित्तीय संस्थानों में जाने की आवश्यकता है। वे बस इस योजना के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं और सीधे सरकार से धन प्राप्त कर सकते हैं। स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना सही समय पर पूंजी की शुरुआती जरूरत को पूरा करेगी। ताकि उत्पाद विकास, परीक्षण, बाजार में प्रवेश आदि सही समय पर हो सके। यह योजना बहुत सारे रोजगार भी पैदा करेगी और स्टार्टअप्स के व्यावसायिक विचारों को मान्य करेगी |

  • स्टार्टअप इकोसिस्टम बनाने के लिए भारत सरकार ने स्टार्टअप इंडिया सीड फंड स्कीम 2021 शुरू की है
  • उद्यमियों को अपना उद्यम विकसित करने के अवसर प्रदान करने के लिए यह योजना 16 जनवरी 2016 को शुरू की गई थी
  • इस योजना को शुरू करने की घोषणा हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने की थी
  • इस योजना के तहत स्टार्टअप्स को शुरुआती चरण में इन्क्यूबेटरों के माध्यम से 50 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी
  • सरकार ने इस योजना के लिए 945 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है
  • इस फंड का उपयोग अवधारणा के प्रमाण, प्रोटोटाइप विकास, उत्पाद परीक्षण, बाजार में प्रवेश, व्यावसायीकरण, आदि के लिए नहीं किया जाएगा
  • सरकार इन्क्यूबेटरों को फंड मुहैया कराने जा रही है और स्टार्टअप्स को यह फंड मुहैया कराने की जिम्मेदारी इन्क्यूबेटरों की होगी
  • अगले 4 वर्षों में 300 इन्क्यूबेटरों के माध्यम से 3600 उद्यमियों को इस योजना का लाभ मिलेगा

Implementation Of Startup India Seed Fund Scheme

उद्योग और आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने के लिए विभाग ने एक विशेषज्ञ सलाहकार समिति (ईएसी) का गठन किया है जो स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के कार्यान्वयन, निष्पादन और निगरानी के लिए जिम्मेदार होगी। उद्योग एवं आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने वाला विभाग इस योजना के क्रियान्वयन के लिए नोडल एजेंसी होगा। यह समिति बीज कोष की अनुमति देने के लिए इन्क्यूबेटरों और चुनिंदा इन्क्यूबेटरों द्वारा उपलब्ध कराए गए विवरणों का सत्यापन करेगी। यह कमेटी इनक्यूबेटर की प्रगति पर भी नजर रखेगी। विशेषज्ञ सलाहकार समिति के पास सभी आवश्यक कार्रवाई करने की शक्ति है ताकि धन का कुशलतापूर्वक उपयोग किया जा सके। विशेषज्ञ सलाहकार समिति में निम्नलिखित सदस्य होते हैं: –

  • अध्यक्ष
  • जैव प्रौद्योगिकी विभाग के प्रतिनिधि
  • अपर सचिव/संयुक्त सचिव/निदेशक/उप सचिव, डीपीआईआईटी
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के प्रतिनिधि
  • वित्तीय सलाहकार, डीपीआईआईटी
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के प्रतिनिधि
  • भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के प्रतिनिधि
  • सचिव द्वारा मनोनीत कम से कम तीन सदस्य
  • नीति आयोग के प्रतिनिधि

Monitoring Of Startup India Seed Fund Scheme

विशेषज्ञ सलाहकार समिति चयनित इन्क्यूबेटरों के साथ स्टार्टअप इंडिया सीड फंड की प्रगति की समीक्षा करेगी। इस योजना के तहत वस्तुनिष्ठ मूल्यांकन के उद्देश्य से, विशेषज्ञ सलाहकार समिति के निर्देशानुसार इन्क्यूबेटरों को रिपोर्ट प्रदान करना आवश्यक है। यदि इनक्यूबेटर मानकों के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर रहा है तो विशेषज्ञ सलाहकार समिति के पास बीज निधि सहायता को बंद करने का पूरा अधिकार है। यदि इनक्यूबेटर अन्य उद्देश्यों के लिए फंड का उपयोग कर रहा है तो ऐसे इनक्यूबेटर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी

Factors Determining The Successful Implementation Of Startup India Seed Fund Scheme

  • मार्केट लॉन्च की प्रगति
  • ऋण की मात्रा
  • क्षेत्र परीक्षण की प्रगति
  • स्टार्टअप द्वारा बनाई गई नौकरियां
  • उत्पाद विकास की प्रगति
  • स्टार्टअप का टर्नओवर
  • प्रोटोटाइप विकास की प्रगति
  • अवधारणा के प्रमाण की प्रगति

Utilisation Of Finance And Accounting Under Startup India Seed Fund Scheme

स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत इनक्यूबेटर द्वारा फंड का उचित उपयोग किया जाना चाहिए और प्राप्त फंड के लेखांकन रिकॉर्ड को बनाए रखने के लिए इनक्यूबेटर की आवश्यकता होती है। यह रिकॉर्ड किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक के साथ एक विशेष परियोजना-विशिष्ट ट्रस्ट और संबंध खाते में रखा जाएगा। स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत धनराशि योजना के दिशा-निर्देशों के अनुसार तीन या अधिक किश्तों में इनक्यूबेटर के बैंक खाते में वितरित की जाएगी। यदि स्टार्टअप से कोई शुद्ध रिटर्न प्राप्त होता है तो इसका उपयोग आगे की फंडिंग के लिए किया जा सकता है। अगर आगे कोई फंडिंग नहीं होती है तो यह पैसा डीपीआईआईटी को वापस कर दिया जाएगा। प्रत्येक वित्तीय वर्ष में प्रत्येक इनक्यूबेटर को स्वीकृत धन, प्राप्त धन और वितरित धन की रिपोर्ट करने की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, इनक्यूबेटर को धन के उपयोग और लेखा परीक्षित व्यय की स्थिति पर विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करने की भी आवश्यकता होती है

Guidelines For Assistance To Incubators

  • इनक्यूबेटरों को अनुदान के वितरण के लिए विशेषज्ञ सलाहकार समिति जिम्मेदार होगी।
  • विशेषज्ञ सलाहकार समिति इनक्यूबेटर को 5 करोड़ रुपये तक का अनुदान 3 या अधिक किश्तों में वितरित करेगी
  • इनक्यूबेटर अनुदान का उपयोग केवल पात्र स्टार्ट-अप को वितरित करने के लिए कर सकता है
  • विशेषज्ञ सलाहकार समिति के पास अनुदान सहायता की राशि तय करने का अधिकार है
  • इनक्यूबेटर किसी अन्य खर्च के लिए अनुदान का उपयोग नहीं कर सकता
  • प्रबंधन शुल्क के लिए इनक्यूबेटर को 5% बीज निधि अनुदान भी प्रदान किया जाएगा
  • इनक्यूबेटर किसी भी अन्य खर्च जैसे सुविधा निर्माण या प्रशासनिक खर्च के लिए प्रबंधन शुल्क का उपयोग करने के लिए अधिकृत नहीं है। इसका उपयोग केवल प्रबंधन उद्देश्य के लिए किया जाना है
  • इनक्यूबेटर को प्रदान किए गए अनुदान की पहली किस्त कुल स्वीकृत राशि के 40% तक होगी
  • अगली किस्त इनक्यूबेटर द्वारा प्राप्त की जाएगी जब हाथ में नकदी कुल प्रतिबद्धता के 10% से कम हो जाएगी
  • विशेषज्ञ सलाहकार समिति प्रमाण प्रस्तुत करने के 30 दिनों के भीतर अगली किश्त की राशि जारी करेगी
  • पहली किस्त प्राप्त होने की तिथि से तीन वर्ष के भीतर इनक्यूबेटर द्वारा सहायता राशि का उपयोग किया जाना चाहिए
  • यदि इनक्यूबेटर ने 2 वर्षों के भीतर अनुदान का 50% उपयोग नहीं किया है, तो इनक्यूबेटर को कोई और राशि प्रदान नहीं की जाएगी और इनक्यूबेटर को अप्रयुक्त निधि को ब्याज के साथ वापस करने की आवश्यकता होगी।
  • इस योजना के तहत चयनित स्टार्टअप को किसी भी प्रकार की फीस देने की आवश्यकता नहीं है
  • इनक्यूबेटर को नियमित कामकाज, समर्थन, विकास आदि को बनाए रखने के लिए स्टार्टअप को भौतिक बुनियादी ढांचा प्रदान करना होता है
  • इन्क्यूबेटर निवेशकों के साथ नेटवर्किंग प्रदान करने के लिए भी जिम्मेदार है
  • इनक्यूबेटर को स्टार्टअप्स के चयन की पारदर्शी प्रक्रिया बनाए रखनी होगी

Selection Procedure Of Startups-Startup India Seed Fund Scheme 2021

  • देश भर के सभी इनक्यूबेटरों को आधिकारिक पोर्टल या किसी अन्य प्लेटफॉर्म के माध्यम से स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा, जिसे विशेष रूप से इस उद्देश्य के लिए डिज़ाइन किया जाएगा।
  • इनक्यूबेटर का चयन करते समय निम्नलिखित बातों पर विचार किया जाना चाहिए:
  • लागू फंड की मात्रा
  • तैनाती योजना
  • स्टार्टअप की संख्या जिसे इनक्यूबेटर समर्थन देना चाहता है
  • पिछले 3 वर्षों में प्रदान की गई मेंटरिंग (किराए पर रखे गए मेंटर्स की संख्या, औसत मेंटरिंग घंटे, आईपी की संख्या)
  • पिछले 3 वर्षों में विस्तारित फंडिंग सहायता (निवेश समझौता, स्टार्टअप की संख्या, कुल कॉर्पस, कुल निवेश)
  • पिछले 3 वर्षों में ऊष्मायन समर्थन (स्टार्टअप की संख्या, सफलता दर, 1 वर्ष में 1 करोड़ के राजस्व को पार करने वाले स्टार्टअप की संख्या, स्टार्टअप की उत्तरजीविता दर)
  • आईएसएमसी की संरचना
  • बुनियादी ढांचे की उपलब्धता
  • टीम की गुणवत्ता
  • पात्रता मानदंड की पूर्ति
  • अन्य समर्थन (उद्योग जोड़ता है, हितधारक जुड़ाव)
  • विशेषज्ञ सलाहकार समिति को समय-समय पर इन्क्यूबेटरों के चयन के दिशा-निर्देशों में परिवर्तन करने का अधिकार है
  • विशेषज्ञ सलाहकार समिति भी अनुदान की प्रगति की निगरानी करेगी
  • इस योजना के तहत इन्क्यूबेटर साल भर आवेदन कर सकते हैं

Selection Procedure Of StartupsStartup India Seed Fund Scheme 2021

  • स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत आवेदन करने वाले सभी इनक्यूबेटरों को एक समिति का गठन करना होगा जिसे इनक्यूबेटर बीज प्रबंधन समिति कहा जाएगा। यह समिति सीड फंड के लिए स्टार्टअप का मूल्यांकन और चयन करेगी। इस समिति में निम्नलिखित सदस्य हैं:-
  • राज्य सरकार की स्टार्टअप नोडल टीम के प्रतिनिधि
  • इनक्यूबेटर के नॉमिनी (अध्यक्ष)
  • वेंचर कैपिटल फंड या एंजेल नेटवर्क का प्रतिनिधि
  • दो सफल उद्यमी
  • अकादमी से डोमेन विशेषज्ञ
  • उद्योग से डोमेन विशेषज्ञ
  • कोई अन्य प्रासंगिक हितधारक
  • इनक्यूबेटर बीज प्रबंधन समिति के सदस्यों के चयन के लिए विशेषज्ञ सलाहकार समिति जिम्मेदार है
  • स्टार्टअप का चयन करते समय खुली, पारदर्शी और निष्पक्ष प्रक्रिया का पालन किया जाना चाहिए
  • स्टार्टअप्स को कुछ विवरण जैसे टीम प्रोफाइल, समस्या विवरण, उत्पाद अवलोकन, सेवा अवलोकन, व्यवसाय मॉडल आदि प्रस्तुत करना होता है
  • स्टार्टअप वरीयता के अनुसार किसी भी 3 इन्क्यूबेटरों में सीड फंड के लिए आवेदन कर सकते हैं
  • पात्रता मानदंड के आधार पर सभी स्टार्टअप का चयन किया जाएगा
  • यदि कोई आवेदन खारिज कर दिया जाता है तो आवेदक नए सिरे से आवेदन कर सकता है
  • सभी अस्वीकृत आवेदकों को ईमेल के माध्यम से अस्वीकृति के बारे में सूचित किया जाएगा
  • आवेदक आधिकारिक पोर्टल पर भी अपने आवेदन की प्रगति को ट्रैक कर सकते हैं
  • इनक्यूबेटर स्टार्टअप का चयन करेगा और सीड फंडिंग प्रदान करेगा
  • आवेदन पत्र भरते समय स्टार्टअप को वरीयता प्रदान करनी होती है और इस वरीयता के अनुसार स्टार्टअप का चयन किया जाएगा
  • स्टार्टअप को इनक्यूबेटर बीज प्रबंधन समिति के समक्ष अपने विचार की एक प्रस्तुति देना आवश्यक है और इस प्रस्तुति के आधार पर इनक्यूबेटर आवेदकों को शॉर्टलिस्ट करेगा।
  • आवेदन प्राप्त होने के 45 दिनों के भीतर, इनक्यूबेटर बीज प्रबंधन समिति आवेदकों को उनके प्रस्तुतीकरण और प्रस्तुति के आधार पर मूल्यांकन करेगी और योग्य स्टार्टअप का चयन करेगी।

Seed Fund Disbursement To Startups By Incubators

  • स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत सभी पात्र स्टार्टअप को सीड फंड निम्नानुसार प्राप्त होगा: –
  • अवधारणा, प्रोटोटाइप विकास या उत्पाद परीक्षण के प्रमाण के सत्यापन के मामले में अनुदान के रूप में 20 लाख रुपये तक
  • बाजार में प्रवेश, व्यावसायीकरण, और ऋण या ऋण से जुड़े उपकरणों के परिवर्तनीय डिबेंचर के माध्यम से 50 लाख रुपये तक का निवेश
  • स्टार्टअप को किसी भी सुविधा के निर्माण के लिए इस फंड का उपयोग करने की अनुमति नहीं है।
  • आवेदक की समस्याओं के समाधान के लिए एक शिकायत प्रकोष्ठ की स्थापना की जाएगी
  • परियोजना की अवधि के अंत में, स्टार्टअप को अंतिम रिपोर्ट और निधियों के लेखापरीक्षित उपयोग प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है
  • यदि उद्यम विफल हो जाता है तो उद्यमी को रिपोर्ट में अपनी सीख और विफलता के कारणों को साझा करना आवश्यक है। रिपोर्ट को निधि राशि के उपयोग प्रमाण पत्र के साथ जमा करना होगा
  • स्टार्टअप को पहली किस्त आवेदन पत्र प्राप्त होने के 60 दिनों के भीतर प्रदान की जाएगी
  • पहली किस्त प्राप्त करने के लिए स्टार्टअप को अंतरिम प्रगति अद्यतन और उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा करना होगा
  • स्टार्टअप को उनकी कंपनी के बैंक खाते में धनराशि प्रदान की जाएगी
  • दूसरी किस्त स्टार्टअप को पहले से निर्दिष्ट मील का पत्थर हासिल करने के बाद प्रदान की जाएगी
  • पहली किस्त जारी करने से पहले, इनक्यूबेटर को स्टार्टअप के साथ एक कानूनी समझौते को निष्पादित करने की आवश्यकता होती है जिसमें सभी आवश्यक नियमों और शर्तों, मील के पत्थर आदि का उल्लेख किया जाना चाहिए।
  • इनक्यूबेटर स्टार्टअप्स को उनके द्वारा प्राप्त कुल अनुदान का केवल 20% प्रदान कर सकता है

Eligibility Criteria Of Startup India Seed Fund SchemeStartup India Seed Fund Scheme 2021

For Startups:

  • स्टार्टअप को DPIIT द्वारा मान्यता दी जानी चाहिए
  • आवेदन के समय, स्टार्टअप को दो साल से अधिक पहले शामिल नहीं किया जाना चाहिए
  • शुरुआत के पास एक उत्पाद या सेवा विकसित करने के लिए व्यावसायिक विचार होना चाहिए जो बाजार के लिए उपयुक्त हो, जिसमें स्केलिंग की गुंजाइश हो, और व्यवहार्य व्यावसायीकरण हो
  • योजना के लिए इनक्यूबेटर में आवेदन के समय, स्टार्टअप में भारतीय प्रमोटर की शेयरधारिता कंपनी अधिनियम 2013 और सेबी विनियमन 2018 के अनुसार कम से कम 51% या अधिक होनी चाहिए।
  • स्टार्टअप को किसी केंद्र या सरकारी योजना के तहत 10 लाख रुपये या उससे अधिक का कोई समर्थन नहीं मिला होना चाहिए
  • जल प्रबंधन, अपशिष्ट प्रबंधन, शिक्षा, कृषि खाद्य प्रसंस्करण आदि में अभिनव समाधान तैयार करने वाले स्टार्टअप को वरीयता दी जाएगी
  • लक्षित समस्या को हल करने के लिए स्टार्टअप को अपने मुख्य उत्पाद या सेवा में प्रौद्योगिकी का उपयोग करना चाहिए

For Incubators:

  • इनक्यूबेटर एक कानूनी इकाई होना चाहिए
  • एक इनक्यूबेटर को केंद्र या राज्य सरकार द्वारा सहायता प्रदान की जानी चाहिए
  • आवेदन के समय इनक्यूबेटर 2 साल के लिए चालू होना चाहिए
  • इनक्यूबेटर में कम से कम 25 व्यक्तियों के बैठने की सुविधा होनी चाहिए
  • आवेदन की तिथि पर, इनक्यूबेटर में कम से कम 5 स्टार्टअप होने चाहिए जो शारीरिक रूप से इनक्यूबेशन से गुजर रहे हों
  • एक पूर्णकालिक मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिसे व्यवसाय विकास और उद्यमिता में अनुभव होना चाहिए, को इनक्यूबेटर में प्रस्तुत किया जाना चाहिए जिसे एक सक्षम टीम द्वारा समर्थित किया जाना चाहिए।
  • यदि इनक्यूबेटर किसी तीसरी निजी संस्था से इनक्यूबेटियों को धन उपलब्ध करा रहा है तो वह इनक्यूबेटर अयोग्य है
  • यदि इनक्यूबेटर को केंद्र या राज्य सरकार द्वारा सहायता नहीं दी जाती है, तो इनक्यूबेटर कम से कम 10 वर्षों के लिए चालू होना चाहिए, कम से कम 2 वर्षों के लिए लेखा परीक्षित वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करनी चाहिए और आवेदन के समय कम से कम 10 अलग-अलग स्टार्टअप होने चाहिए जो चल रहे हैं। शारीरिक रूप से ऊष्मायन

Required Documents To Apply For Startup India Seed Fund Scheme

  • Aadhar card
  • GST number
  • Bank account details
  • Lease agreement
  • Detail report of the project
  • Passport size photograph
  • Mobile number

Procedure To Apply For Startup India Seed Fund Scheme

For Incubators

First of all, go to the official website of the startup India seed fund scheme

Startup India Seed Fund Scheme
  • आपके सामने होम पेज खुलेगा
  • होमपेज पर आपको अप्लाई नाउ पर क्लिक करना होगा
  • उसके बाद, आपको इनक्यूबेटर सेक्शन के लिए अप्लाई नाउ अंडर पर क्लिक करना होगा
  • अब आपको create a account पर क्लिक करना है
  • आपके सामने एक नया पेज खुलेगा
Startup India Seed Fund Scheme
  • इस नए पेज पर आपको अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर और पासवर्ड दर्ज करना होगा
  • उसके बाद आपको रजिस्टर पर क्लिक करना है
  • एक ओटीपी आपकी पंजीकृत आईडी पर भेजेगा
  • आपको इस ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा
  • अब आपको सबमिट पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आपको लॉग इन ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • अब आपको अपने देश का चयन करना है और इनपुट लेटरबॉक्स पर क्लिक करना है
  • अब आपको नेक्स्ट ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • आवेदन पत्र आपके सामने आ जाएगा
  • आपको इस आवेदन पत्र में अपनी मूल जानकारी, संपर्क जानकारी, संपर्क जानकारी और सफलता की कहानियां दर्ज करनी होंगी
  • इसके बाद आपको सेव प्रोफाइल पर क्लिक करना है
  • अब आप प्रोफ़ाइल हैं अनुमोदन के लिए मॉडरेटर को भेजेंगे
  • आपको फिर से पोर्टल पर लॉग इन करना होगा
  • अब आपको सीड फंड योजना के तहत अप्लाई नाउ पर क्लिक करना है
  • आवेदन पत्र आपके सामने आ जाएगा
  • आपको इस आवेदन पत्र में सभी आवश्यक विवरण जैसे सामान्य विवरण, इनक्यूबेटर टीम विवरण, इनक्यूबेटर समर्थन विवरण, फंड आवश्यकता विवरण आदि दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद, आपको सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे
  • अब आपको सबमिट . पर क्लिक करना है
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं

For Startups

  • स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • आपके सामने होम पेज खुलेगा
  • होमपेज पर आपको अप्लाई नाउ पर क्लिक करना होगा
  • उसके बाद आपको स्टार्टअप सेक्शन के तहत अप्लाई नाउ पर क्लिक करना होगा
  • उसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र दिखाई देगा
  • इस आवेदन पत्र में सभी आवश्यक विवरण जैसे आपका नाम, ईमेल पता, मोबाइल नंबर, आदि दर्ज करना होगा
  • उसके बाद, आपको सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे
  • अब आपको सबमिट . पर क्लिक करना है
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत स्टार्टअप के रूप में आवेदन कर सकते हैं

Procedure To Login On The Portal

  • स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • आपके सामने होम पेज खुलेगा
  • अब आपको लॉग इन पर क्लिक करना है
Login On The Portal
  • इसके बाद आपको अपनी कैटेगरी चुननी है जो इस प्रकार है:-
  • इनक्यूबेटर/स्टार्टअप
  • डीपीआईआईटी/ईएसी
  • अब आपको अपना यूजरनेम और पासवर्ड डालना है
  • उसके बाद आपको लॉग इन पर क्लिक करना है
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप पोर्टल में लॉग इन कर सकते हैं

Contact Us

  • सबसे पहले स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • आपके सामने होम पेज खुलेगा
  • अब आपको कांटेक्ट पर क्लिक करना है
Startup India Seed Fund Scheme
  • A new page will appear before you
  • Enter the following details on this new page:-
    • Entity type
    • Name of the entity
    • Name
    • Email ID
    • Location
    • Query type
    • Message
  • After that you have to click on submit

Contact Details

इस लेख के माध्यम से हमने आपको स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। यदि आप अभी भी किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप अपनी समस्या के समाधान के लिए संबंधित विभाग को एक ईमेल लिख सकते हैं। ईमेल आईडी है dipp-startups@nic.in

बिहार जॉब की जानकारी के लिए यहाँ पर जाएBihar Job
एडमिशन से संभंधित जानकारी के लिए यहाँ पर जाएAdmission
YouTube चैनलClick Here
Job and Career Discussion के टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करेJoin Telegram
Join Facebook ग्रुपFB Group
Join Facebook PageFB Page

JobWaleBaba की तरफ से आप अभी आवेदक को शुभकामनाएं | सभी तरह के सरकारी नौकरी अलर्ट के लिए ,रिजल्ट के लिए और अन्य सभी सरकारी नौकरी के लिए  http://jobwalebaba.in/‘ को विजिट करे 

आवेदन करने वाले इच्छुक उम्मीदवार सभी मानदंड ,नौकरी विवरण ,ऑनलाइन फॉर्म भरने की शुरुवात और अंतिम तिथि और आवेदन प्रक्रिया जैसे महतवपूर्ण जानकारी निचे देख सकते है | ऑनलाइन आवेदन जमा करने से पहले आप सभी विवरण को ठीक और सही तरीके से पढ़ ले 

यदि आपको कोई क्वेश्चन हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताये, निचे कमेंट बॉक्स है उसके द्वारा आप हमें सन्देश भेज सकते है या फिर फिर कांटेक्ट पेज से भी समपर्क कर सकते है|

Startup India Seed Fund Scheme 2021

Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021 Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021Startup India Seed Fund Scheme 2021

ूरा पोस्ट पढने के लिए धन्यवाद |अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा अपने दोस्तों के बीच में जरुर शेयर करे |
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top